For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

अच्छी नींद के लिए पीएं ये हेल्दी ड्रिंक, रोजाना बिस्तर में जानें से पहले पीएं

|

नींद न आने की समस्या से हम में से कई लोग परेशान रहते है। नींद न आना तनाव या चिंता का एक मुख्‍य कारण होता है। सिएटल में वाशिंगटन विश्वविद्यालय के एक अध्ययन में पाया गया है कि नींद की कमी की वजह से इम्यूनिटी भी कमजोर होने लगती है। हम आज आपको एक ऐसे हेल्‍दी ड्रिंक के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको नींद लाने में मदद करता है। यहां हम 'मून मिल्क' के बारे में बता रहे है जो भारतीय मसाले जैसे अश्वगंधा, जायफल, हल्दी से मिलकर बनता है। जो न हमारी नींद लाने में मदद करता है बल्कि इम्यूनिटी को मजबूत करने में भी मदद करता है।

मून ड्रिंक में शामिल इन चीजों के जानें फायदे

दूध

दूध में ट्रिप्टोफैन नामक एमिनो एसिड होता है, जो अच्छी नींद लेने के लिए जाना जाता है। दूध में कई पोषक तत्व (जैसे प्रोटीन, विटामिन, कैल्शियम आदि) होते हैं, जिसमें कई तरह के पोषक तत्‍व होते हैं।

हल्दी

हल्दी एंटीऑक्सिडेंट, एंटी इंफ्लेमेट्री और इम्यूनिटी बढ़ाने वाले गुणों से भरपूर होती है। हल्दी में कार्मेटिक प्रभाव होते हैं जो बेहतर पाचन और चयापचय में सहायता करते हैं, जिससे समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है।

अश्वगंधा

अश्वगंधा एक एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी है जो हमारे शरीर को किसी भी तरह के तनाव और चिंता से लड़ने में मदद करती है। यह हमारे शरीर के कामकाज को संतुलित करने के अलावा समग्र प्रतिरक्षा, शक्ति और जीवन शक्ति की सहायता के लिए जानी जाती हैं।

जायफल

जायफल एक एडाप्टोजेन है, जो हमारे शरीर के लिए शामक का काम कर सकता है। यह आपको नींद की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद कर सकता है।

ये है मून मिल्क की रेसिपी

सामग्री: दूध- 1 गिलास
अश्वगंधा पाउडर- 1/2 चम्मच
हल्दी पाउडर- 1/2 चम्मच
जायफल पाउडर- एक चुटकी
खाद्य नारियल का तेल- 1 चम्मच (वैकल्पिक)

मून मिल्क बनाने का तरीका

दूध को कम आंच पर गर्म करें, इसमें अश्वगंधा, हल्दी और जायफल मिलाएं। एक उबाल आने के बाद इसे बंद कर दें। इसमें नारियल का तेल डालें और अच्छी तरह फेंटें। आप चाहें तो दूध में थोड़ी चीनी, ताड़ की चीनी, शहद या मेपल सिरप भी मिला सकते हैं। अब इसे एक गिलास में दूध डालो और बिस्तर पर जाने से पहले पी लो।

English summary

Moon Milk Nutrition, Health Benefits and How to Make in Hindi

We are talking about “moon milk”, which is milk with Ayurvedic herbs and plants also known as adaptogens.