जल्‍दी कंसीव होना चाहती है तो खाइए ये फर्टिलिटी फूड

Subscribe to Boldsky
5 ways of Ayurveda to get pregnant faster | आयुर्वेद की 5 तरीके, ज़ल्द प्रेगनेंसी में मदद करेगे | Boldsky

अगर कंसीव करने के लिए कोशिश कर रही है तो एक बात जान लीजिए इसके लिए आपको फिजिकली फिट होना भी जरुरी है। कंसीव करने के लिए ओव्‍यूलेशन के साथ एक हेल्‍दी भी डाइट भी जरुरी होती है। आजकल की लाइफस्‍टाइल की वजह इन्‍फर्टिलिटी महिलाओं में एक समस्‍या जा रही है।

जब किसी स्त्री को गर्भवती होने में कठिनाई होती है तो इसके कारण वह तनावग्रस्त हो सकती है। हालांकि महिलाओं में बांझपन कई कारणों से हो सकता है परन्तु विशेषज्ञ ऐसा मानते हैं कि उचित आहार सही तरीके से लेना भी प्रभावी उपाय है। इसलिए आज हम आपको यह फर्टिलिटी फूड के बारे में बता रहे हैं जो महिलाओं को कंसीव होने में मदद करेगी। ये 25 सुपरफूड, स्‍तनपान करवाने वाली महिलाओं के लिए है जरुरी

 हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां, खासकर पालक प्रजनन अंगों को स्वस्थ रखते हैं। इसमें मौजूद आयरन, फॉलिक एसिड व एंटीऑक्सीडेंट्स काफी मददगार होते हैं। बंदगोभी, फूलगोभी, ब्रोकली, मोठ व स्प्राउट्स जैसी सब्जियों में डाइ इनडोलीमिथेन (डीआइएम) नामक तत्व भरपूर मात्रा में होता है। यह फर्टिलिटी बढ़ाने में फायदेमंद होता है। पालक में मिलने वाला फोलिक एसिड ना सिर्फ प्रेंगनेंट होने में मदद करता है, बल्कि नवजात में होने वाली समस्याओं से भी बचाता है। शरीर में अतिरिक्त एस्ट्रोजेन को कम भी करता है। जिससे यूट्रीन फाइबरॉयड, ओवरी के सिस्ट और एंडोमीटोरॉयसिस जैसी समस्याएं नहीं होती हैं और आप फर्टाइल बनी रहती हैं। प्रेगनेंसी में मां और पेट में पल रहें बच्‍चें के विकास के लिए खाइए ये मेजिकल फूड

 पीली व नारंगी सब्जियां

पीली व नारंगी सब्जियां

महिलाओं को अपने खाने में नारंगी व पीले रंग की सब्जियों को शामिल करना चाहिए। ये सब्जियां एंटी आक्सिडेंट व बीटा केरोटीन का अच्छा स्रोत है। बीटा केरोटीन महिलाओं में हार्मोन्स के असंतुलन को कम करता है, जिससे आपको कंसीव करने में मदद मिलती है। इसके अलावा गर्भपात की आशंका भी कम हो जाती है।

 रेशायुक्त भोजन

रेशायुक्त भोजन

महिलाओं को अपने आहार में साबुत अनाज लेना चाहिए। ब्राउन राइस, गेहूं की ब्रेड, बींस और फ्लैक्स सीड को शामिल करना चाहिए। ये रेशेयुक्त आहार हैं, जो पचने में आसान होते हैं। अगर पाचन-क्रिया सही रहेगी, तो शरीर में कोई भी विषैला तत्व नहीं रहेगा।

पीएं ज्यादा पानी

पीएं ज्यादा पानी

यह तो सभी जानते हैं कि स्वस्थ रहने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ज्यादा पानी पीने से कंसीव करने भी मदद मिलती है। प्रजनन अंग ठीक से काम करते हैं। प्राकृतिक तरल पदार्थ आसानी से स्पर्म सर्विक्स तक पहुंचते हैं।

 गाजर खाएं

गाजर खाएं

गर्भवती होने के लिए जरुरी है कि महिलाओं के मासिक धर्म नियमित हो। इसके लिए गाजर, मटर, स्वीकट पटैटो (गंजी) आदि का सेवन करें, इससे मासिक धर्म नियमित रहेगा। साथ ही आप जल्द ही कंसीव कर सकेंगी।

लें विटामिन-सी

लें विटामिन-सी

विटामिन-सी वाले आहार, जैसे- संतरा, स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी व किवी फ्रूट का नियमित सेवन करने से महिलाओं को कंसीव करने में मदद मिलती है।

दूध से बने इटेब्ल्स लें

दूध से बने इटेब्ल्स लें

दूध से बने खाद्य सामान महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाते हैं। इसलिए महिलाओं को दूध, दही खाना चाहिए। इसके अलावा मछली में मिलने वाला एमीनो असिड भी फर्टिलिटी बढ़ाता है। आप इसे भी अपने खाने में शामिल कर सकती हैं।

बादाम खाएं

बादाम खाएं

गर्भवती होने के लिए महिलाएं बादाम, अखरोट और अप्रीकॉट भी खा सकती हैं। इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो कि शरीर के लिए काफी जरूरी है। ताजा और ऑर्गेनिक फल आपको प्रेगनेंट होने में मदद करता है। ऐसे फल, जो पैक या प्रिजर्व करके रखे जाते हैं, उनमें केमिकल मिला होता है। इसलिए इसे खाने से बचना चाहिए।

हल्दी

हल्दी

जब भी आप खाना बनाए तो इसके स्वाद को बढ़ाने के लिए तथा स्वस्थ गर्भावस्था के लिए उसमें हल्दी अवश्य मिलाएं। एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध इस मसाले के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं कि इस मसाले में प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के अद्भुत गुण हैं।

मछली में ओमेगा-3

मछली में ओमेगा-3

मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड, डीएचए, इपीए, विटामिन-डी और बी-12 नामक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। ये आपके शरीर में हार्मोन्स को संचालित करते हैं। मछली न सिर्फ फर्टिलिटी बढ़ाने में फायदेमंद है, बल्कि गर्भावस्था के दौरान भी शिशु के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। शोधों में भी यह बात साबित हो चुकी है कि ओमेगा-3 एसिड युक्त डाइट के सेवन से पुरुष फर्टाइल होते हैं। इसलिए यह सभी के लिए फायदेमंद है।

नट्स और बीन्स

नट्स और बीन्स

नट्स और बीन्स में जरुरी फैटी एसिड, विटामिन्स, मिनिरल्स और भरपूर मात्रा में प्रोटीन होते हैं। इसके अलावा ये बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट भी होते हैं, जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करते हैं। इससे शरीर में रक्त का संचार ठीक होता है। प्रजनन-तंत्र को जरुरी तत्व मिलते हैं। इससे महिलाओं में भ्रूण का विकास तेजी से होता है। पुरुषों में स्पर्म की क्वॉलिटी भी सुधरती है।

अंडा है फायदेमंद

अंडा है फायदेमंद

अंडे की पीली जर्दी फर्टिलिटी के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 एसिड, विटामिन-ए और ई, पानी में घुलने वाला विटामिन-बी, यानी कोलाइन भी होता है। इसके सेवन से गर्भ के भीतर शिशु का नर्व सिस्टम ठीक रहता है। ऐसे में अंडे का सेवन फर्टिलिटी बढ़ाने और हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए फायदेमंद है।

लहसुन

लहसुन

जब ऐसे खाद्य पदार्थों की बात आती है जिनमें प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में हों तो लहसुन इस सूची में पहले स्थान पर आता है। रसोईघर में पाए जाने वाले इस घटक में सेलेनियम नाम खनिज पाया जाता है जो गर्भपात की संभावना को कम करता है तथा इस प्रकार आपके गर्भवती होने के अवसरों को बढ़ाता है।

ऑलिव ऑइल (जैतून का तेल)

ऑलिव ऑइल (जैतून का तेल)

स्वस्थ शरीर और हृदय के लिए ऑलिव ऑइल का महत्व सब जानते हैं। परंतु इस तेल में उपस्थित मोनोसैचुरेटेड फैट शरीर में सूजन को कम करते हैं तथा इस प्रकार समस्या मुक्त गर्भावस्था में सहायक होते हैं।

कद्दू के बीज

कद्दू के बीज

गर्भवती होने की योजना बनाने वाली महिलाओं के लिए कद्दू के बीज बहुत लाभदायक होते हैं क्योंकि इसमें ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो प्रजनन स्वास्थ्य बढ़ाने के लिए अच्छे होते हैं। हालाँकि इन बीजों में जिंक होता है जो भ्रूण अवस्था में कोशिका विभाजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    What to Eat to Conceive

    eating certain foods and avoiding others is something you can do yourself, without medical intervention, to help improve your ovulatory function.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more