खाना बनाने के लिए सेब के सिरके का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं?

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

सेब के सिरके का बहुत सी बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एंजाइम होते हैं जो ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद करते हैं।

यही कारण है कि यह टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए बेहतर चीज है। इससे पाचन तंत्र बेहतर होता है और वजन कम करने में भी मदद मिलती है।

टेस्ट की बात करें, तो सेब का सिरका एसिडिक नहीं है। यह थोड़ा खट्टा होता है। इसका टेस्ट बहुत अच्छा होता है। इसमें हेल्दी स्वीटनर जैसे शहद, मेपल सिरप और ब्राउन शुगर मिलाए जाते हैं।

बोर्ग्स इंडिया के एमडी रजनीश भसीन आपको बता रहे हैं कि भारतीय खाने में किस सेब के सिरके का इस्तेमाल और कैसे-कैसे कर सकते हैं।

 1) सलाद ड्रेसिंग के रूप में

1) सलाद ड्रेसिंग के रूप में

सेब के सिरके का टेस्ट अच्छा होता है और यह हेल्दी होता है जिस वजह से इसका इस्तेमाल सलाद ड्रेसिंग के लिए बेहतर है। सलाद का टेस्ट और ज्यादा बढ़ाने के लिए आप इसे सलाद के ऊपर छिड़क सकते हैं। सेब के सिरके के साथ ओलिव ऑयल, थोड़ा सा शहद, नमक और जड़ी बूटियों के मिश्रण से ड्रेसिंग करें

2) डेटोक्स ड्रिंक

2) डेटोक्स ड्रिंक

रोजाना सुबह एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका डालकर पिएं। टेस्ट बढ़ाने के लिए आप शहद, मेपल सिरप और रिफाइंडेड शुगर डाल सकते हैं। इस ड्रिंक में दालचीनी भी मिक्स करें। इस ड्रिंक को हफ्ते में तीन दिन पिएं। इससे वजन घटाने और पाचन में सुधार करने में मदद मिलती है।

3) सॉस का टेस्ट बढ़ाने के लिए

3) सॉस का टेस्ट बढ़ाने के लिए

सेब के सिरका का टेस्ट अच्छा होता है और यह सॉस, जैम और चटनी के टेस्ट को बढ़ा देता है। इसके अलावा यह प्रिज़र्वटिव के रूप में काम करता है।

4) मैरिनेशन के लिए

4) मैरिनेशन के लिए

मीट और कॉटेज चीज के लिए मैरीनेशन सिर्फ स्वाद के लिए ही नहीं किया जाता बल्कि बैक्टीरिया को मारने के लिए भी किया जाता है। सेब के सिरके से इसे ना केवल बेहतर रंग मिलता है बल्कि हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में भी मदद मिलती है। मैरिनेशन के लिए नमक, मसाले और जड़ी बूटियों में ¾ कप सेब का सिरका मिलाएं और इसमें पनीर व मीट को कुछ घंटों का छोड़ दें।

5) फूड प्रिज़र्वटिव के लिए

5) फूड प्रिज़र्वटिव के लिए

किसी भी रेसिपी में सेब के सिरके के कुछ बूंदें मिलाने से आप उसे लंबे समय तक फ्रेश रख सकते हैं।

6) फल-सब्जियों में कीटाणुओं को मारने के लिए

6) फल-सब्जियों में कीटाणुओं को मारने के लिए

फल और सब्जियों को पानी और सेब के सिरके के मिश्रण से धोने से बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद मिलती है। कटे हुए फल और सब्जियों पर सेब का सिरका लगाने से उन्हें काला होने से रोका जा सकता है

English summary

How to use apple cider vinegar in Indian cooking

Here we bust some apple cider vinegar myths. In terms of taste, apple cider vinegar is not as acidic and sour as other vinegars.
Story first published: Wednesday, July 26, 2017, 17:00 [IST]
Please Wait while comments are loading...