सिर्फ फायदे ही नहीं दालचीनी से आपको होते हैं ये 8 बड़े नुकसान

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

दालचीनी का पौधा जितना छोटा है इसके गुण उतने ही बड़े हैं। दालचीनी की सूखी पत्तियां तथा छाल को मसालों के रूप में प्रयोग किया जाता है। इसकी छाल थोड़ी मोटी, चिकनी तथा हल्के भूरे रंग की होती है।

दालचीनी मोटापा कम करने के साथ-साथ कई बीमारियों को भी दूर करता है। यह रक्तशोधक भी है। शहद तथा दालचीनी को मिलाकर दिल की बीमारियों, कोलेस्ट्रॉल, त्वचा रोग, सर्दी जुकाम, पेट की बीमारियों के लिए फायदेमंद है।

दालचीनी जीनस सिनामोन के पेड़ों की भीतरी छाल है। यह एक मसाला ही नहीं औषधि भी है। यह खाने में जायका बढ़ाने के साथ-साथ मोटापे से लेकर डायबिटीज तक कई समस्‍याओं का समाधान करती है।

हालांकि इसके बहुत सारे स्‍वास्‍थ्‍य लाभ है, लेकिन कुछ लोगों को इसके सेवन से नुकसान भी हो सकता है। आइए दालचीनी के साइड इफेक्‍ट के बारे में जानकारी लेते हैं।

1) समय से पहले प्रसव

1) समय से पहले प्रसव

गर्भावस्‍था में कुछ महिलाओं को दालचीनी के सेवन से अपच और पेट दर्द की समस्‍या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है, लेकिन इसे गर्भावस्‍था के दौरान नहीं लिया जाना चाहिए। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह गर्भाशय में संकुचन पैदा कर सकता है, और कुछ मामलों में तो यह समय से पहले प्रसव का कारण भी बनता है। इसलिए गर्भवती को नियमित रूप से दालचीनी के सेवन से बचना चाहिए और इसका सेवन कभी-कभार ही करना चाहिए।

2) ब्लड शुगर

2) ब्लड शुगर

बहुत अधिक मात्रा में सीलोन दालचीनी का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल कम हो सकता है, जिससे आपको सुस्ती और नींद आती है। सुनिश्चित करें कि आप चाय या कॉफी में सिलोन दालचीनी छाल तेल के 2-3 से अधिक बूंदें ना डालें।

3) लीवर फेलियर का कारण

3) लीवर फेलियर का कारण

दालचीनी के अधिकांश प्रकार में लगभग 5 प्रतिशत कुमरिन होता है, इसलिए इसका ज्‍यादा सेवन लीवर फेलियर का कारण बन सकता है। इसकी बजाय, आपको सीलोन दालचीनी का प्रयोग करना चाहिए क्‍योंकि इसमें यह पदार्थ केवल 0.04 प्रतिशत शामिल होता है।

4) खून पतला करें

4) खून पतला करें

कैसिया दालचीनी आपके ब्‍लड को पतला करती है, और यह मानना यह कुछ मामलों में अच्‍छा होता है बिल्‍कुल भी सच नहीं है। सीलोन दालचीनी ब्‍लड को इस तरह पतला नहीं करती है, इसलिए अगर आप ब्‍लड को पतला करने की दवा ले रहे हैं तो आपको कैसिया दालचीनी से बचना और सीलोन दालचीनी लेनी चाहिए।

5) त्वचा में जलन

5) त्वचा में जलन

दालचीनी के तेल को बिना कुछ मिलाये सीधा त्‍वचा पर लगाने से जलन पैदा हो सकती है। इसलिए इस तेल के इस्‍तेमाल के समय आपको विशेष रूप से सावधान रहना चाहिए।

6) पेट में जलन

6) पेट में जलन

अत्यधिक मात्रा में दालचीनी के सेवन से पेट के अंदरूनी हिस्से में जलन का अनुभव हो सकता है। गस्ट्रोइंटेस्टिनल समस्‍या जैसे पेट का अल्‍सर से ग्रस्‍त लोगों में दालचीनी के साइड इफेक्‍ट बहुत ज्‍यादा देखें जा सकते हैं।

7) एंटीबायोटिक

7) एंटीबायोटिक

दालचीनी कई तरह से एक एंटीबायोटिक की तरह काम करती है। इसलिए यदि आप एंटीबायोटिक टैबलेट ले रहे हैं, तो यह समस्या का कारण बन सकता है। इसका कारण यह है कि एंटीबायोटिक दवाओं की मात्रा दोगुनी हो जाती है। इस प्रकार, जब आप एंटीबायोटिक दवाओं पर होते हैं तो उपभोग करने वाली दालचीनी को रोकने की सिफारिश की जाती है।

8) हार्ट प्रॉब्लम्स

8) हार्ट प्रॉब्लम्स

दालचीनी ज्यादा खाने से आपके हृदय की दर बढ़ सकती है। इसलिए दिल के मरीजों के लिए दालचीनी की उच्च खुराक खतरनाक हो सकती है। हम कई व्यंजनों में दालचीनी तेल का उपयोग भी करते हैं। याद रखें, लचीला दालचीनी तेल बहुत मजबूत है और हृदय की दर बढ़ जाती है, खासकर बच्चों में।

English summary

Did You Know That Cinnamon Can Have Dangerous Side Effects?

Side effects of over consumption of cinnamon are heart problem, body heat, etc. Read to know the top side effects of consuming excess cinnamon.
Please Wait while comments are loading...