इन तरीकों से गर्भ में ही जानें बच्चे की सही पोजिशन

By Lekhaka
Subscribe to Boldsky

प्रेगनेंसी के दौरान आपका बच्चा, घुमता है, किक मारता है और अपनी पोजिशन बदलता रहता है। आप चाहे सोए या फिर जगते हुए कोई भी काम करें, बच्चा गर्भ में आराम से घुमते हुए हर कौना छान मारता है।

गर्भ में बच्चे कि सही पोजिशन का पता लगाना अपने आप में एक कला है। एक अच्छी डॉक्टर और दाई मां ही आपकी बैली पर हाथ लगाकर बच्चे कि सही पोजिशन बता सकती है। लेकिन ऐसा नहीं है कि आप यह नहीं कर सकती है अगर आप चाहे तो आप खुद भी अपने बच्चे कि पोजिशन का पता लगा सकती है।

Exercise during pregnancy is must for mother and baby, says Kareena Kapoor Khan |BoldSky
इसके लिए सिर्फ इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि बैली पर किस सही जगह हल्के हाथों से प्रेस करना चाहिए। आराम करते हुए आप सावधानी से बच्चे कि किक के मुताबिक बैली का वह हिस्सा जांचे, जहां बच्चा ज्यादा किक मारता है।
 8 Easy Ways To Help Determine Your Baby’s Position At Home

इन तरीकों से गर्भ में ही जानें बच्चे की सही पोजिशन

1. अगर आपके बच्चे का सिर नीचे कि ओर और पीठ बैली के फ्रंट में तो आपको पसलियों कि ओर किक का एहसास होगा। साथ ही आपकी बैली और नाभी उभरी हुई सी दिखाई देगी। इस पोजिशन को एंटीरियर पोजिशन कहते है। साथ ही इससे यह इशारा भी मिलता है कि यह बच्चे के जन्म के लिए सर्वोत्तम पोजिशन है।

2. अगर आपको बैली के सामने वाले हिस्से में, बच्चे के किक महसूस हो और बैली समतल लगे, तो इसका मतलब है कि अभी बच्चे का फ्रंट वाला हिस्सा है। यह पोजटीरियर पोजिशन कहलाती है।

3. बैली के उपरी हिस्से को हल्का सा धक्का दें। अगर बच्चे के हिप्स होगें तो आपको, मुलायम और अनइवन शेप्स का एहसास होगा। साथ ही आपको लगेगा कि ऐसी पोजिशन में हल्का प्रेशर देने पर भी बच्चा हिलेगा नहीं।

4. किसी पोजिशन में आपको कुछ गोलाकार और हार्ड लम्प महसूस हो, जो कि हिल रहा है तो हो सकता है कि यह आपके बेबी का सिर हो। ऐसी पोजिशन में बच्चे का सिर पसलियों में और पैर नीचे कि ओर होते है।

5. बच्चे का हिचकियां लेना और उसका किक करने के तरीके से भी आप उसकी पोजिशन का पता लगा सकते है। अगर बैली के उपरी हिस्से में हिचकियां महसूस हो तो, इसे हेड अप पोजिशन कहते है। साथ ही अगर बैली के नीचले हिस्से में किक एक एहसास हो तो, इसका मतलब है कि बच्चे के पैर उपर है और सिर नीचें। साथ ही यह इशारा है कि बच्चा अभी-अभी ब्रीच पोजिशन से निकला है।

6. अगर प्रेगनेंसी के आखिरी दिनों, बैली के उपरी हिस्से और पसलियों के पास आपको हल्का दर्द सा लगे तो, यह इशारा है कि बच्चे का सिर पसलियों के करीब है। इस पोजिशन को ब्रीच पोजिशन कहते है।

7. आराम से और हल्के हाथों से बैली को दोनों साइड्स से हाथों से दबाएं। इस दौरान अगर आपको लम्बा या फिर किसी सॉफ्ट चीज का एहसास होता है तो समझिए कि यह आपके बच्चे का बैक यानी कि पीठ वाला हिस्सा है। अगर आपको बैली की दूसरी ओर लम्स महससू हो तो, मुमकिन है कि आप बच्चे के हाथ या पैर को छू रहें है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    इन तरीकों से गर्भ में ही जानें बच्चे की सही पोजिशन | 8 Easy Ways To Help Determine Your Baby’s Position At Home

    you too can determine the position of your baby by yourself. You just have to know where exactly to press your hands against your belly and feel them.
    Story first published: Saturday, July 22, 2017, 13:30 [IST]
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more