गर्भावस्‍था के दौरान शरीर के तापमान को इन घरेलू नुस्‍खों से करें कम

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

इंसान के शरीर का सामान्‍य तापमान लगभग 98.3 फारेनहाइट होता है। गर्भावस्‍था के दौरान महिलाओं के शरीर का तापमान थोड़ा बढ़ जाता है। ये लगभग 0.5 फारेनहाइट से लेकर 1 फारेनहाइट तब बढ़ सकता है।

पर्याप्‍त सावधानी बरतने पर इस वजह से शिशु पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता है। हार्मोन में बदलाव के कारण भी शरीर के तापमान में बदलाव देखा जाता है। वहीं दूसरी ओर गर्भावस्‍था के दौरान महिलाओं के शरीर में रक्‍त प्रवाह लगभग 40 प्रतिशत बढ़ जाता है।

गर्मियों के मौसम ये स्थिति और भी ज्‍यादा खराब हो जाती है। गर्मी में पसीना और पानी की कमी भी महसूस होने लगती है। इससे बचने का सबसे आसान और असरदार तरीका है कि आप बहुत ज्‍यादा मात्रा में पानी का सेवन करें।

इसके अलावा ऐसे कपड़े पहनें जिसमें त्‍वचा सांस ले सके। सूती और लिनने से बने कपड़े पहनें। हल्‍के रंग के कपड़े ही पहनें क्‍योंकि गहरे रंग के कपड़ों में और ज्‍यादा गर्मी लगती है। वहीं व्‍यायाम के दौरान शरीर को बहुत ज्‍यादा गर्म ना होने दें।

बार-बार नहाने से थोड़ी राहत मिल सकती है लेकिन ये लंबे समय तक आपको फायदा नहीं पहुंचाता है। इसके अलावा कुछ उपाय ये भी हैं :

Home Remedies To Reduce Body Heat During Pregnancy

पानी

पानी से बेहतर और कोई उपाय नहीं है। गर्मियों में आपको ढेर सारा पानी पीना चाहिए। इससे शरीर का तापमान चमत्‍कारिक रूप से संतुलित रहता है और शरीर में पानी की कमी भी नहीं होती है। गर्भावस्‍था में पानी जरूर पीना चाहिए।

ठंडे पानी में पैरों को डुबोने से भी राहत महसूस होती है। जब भी आपको गर्मी लगे तो नहा लें या फिर चेहरे पर पानी डाल लें।

कच्‍चा नारियल

गर्भवती महिलाओं को शरीर में नमी बनाए रखने के लिए रोज़ाना कम से कम एक गिलास कच्‍चा नारियल जरूर खाना चाहिए। डॉक्‍टर भी इसकी सलाह देते हैं।

कच्‍चे नारियल में पानी की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है। इसलिए ये शरीर के तापमान को बनाए रखने में मदद करता है। रात की बजाय दिन के समय में कच्‍चे नारियल का सेवन करें वरना जुकाम हो सकता है।

मेथीदाना

मेथीदाने के कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं। हर भारतीय रसोई मेथीदाना मसाले के रूप में जरूर मौजूद होती है। इससे शरीर को ठंडक मिलती है। मेथीदाने की पत्तियां और बीज दोनों ही शरीर के लिए लाभकारी हैं।

मेथीदाने के बीजों को रातभर एक कप पानी में भिगोकर रख दें। सुबह होने पर इस पानी को पी लें।

नीबू

नीबू में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है जो शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। नीबू से शरीर में नमी का स्‍तर भी बरकरार रहता है और गर्भवती महिलाओं को एनर्जी मिलती है। गर्मी के मौसम में ये काम जरूर करें।

नीबू के रस में एक चम्‍मच शहद और उसमें एक चुटकी नमक डालकर पीएं।

तुलसी के दाने

तुलसी के बीजों को सब्‍जा बीज और तुक्‍मेरिया बीज भी कहा जाता है। इसका प्रयोग कई पेय पदार्थों और फलूदे में किया जाता है। इससे शरीर का तापमान तुरंत कम हो जाता है।

सबसे पहले कुछ समय के लिए पानी में बीजों को भिगो दें ताकि ये फूल जाएं। अब इसे किसी भी प्राकृतिक पेय पदार्थ के साथ या कोल्‍ड ड्रिंक में मिलाकर पीएं। गर्म्रियों के मौसम में गुलाबजल के साथ पीना बेहतर रहेगा।

पुदीना

पुदीने से शरीर को ठंडक मिलती है और उसका तापमान भी कम हो जाता है। ठंडी पुदीने की चाय में थोड़ा शहद मिलाकर पीएं। इसे आप दिन में कई बार पी सकते हैं।

पुदीने के तेल या पत्तियों को पानी में मिलाकर आप नहा भी सकते हैं। इससे शरीर का तापमान ठंडा हो जाएगा।

जलयुक्‍त फल और सब्‍जी

ऐसी सब्‍जियों का सेवन करें जिनमें पानी की अधिक मात्रा हो। इन्‍हें आप अपने खाने में शामिल करें। सलाद खाएं और उसमें खीरा जरूर रखें। इससे शरीर की गर्मी कम होगी।

इसके अलावा आप अन्‍य सब्‍जियां कद्दू, लौकी और ऐसी कई सारी सब्‍जियां खा सकते हैं। फलों में आपको तरबूज का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा लीची, केला, खरबूजा और अनार आदि भी खा सकते हैं।

मुल्‍तानी मिट्टी

मुल्‍तानी मिट्टी के कई सौंदर्यवर्द्धक फायदे होते हैं। इससे शरीर का तापमान भी कम होता है। मुल्‍तानी मिट्टी का असर लंबे समय तक रहता है। इसे आप चंदन के पाउडर, गुलाब जल मिलाकर अपने पैरों की एडियों, गर्दन और चेहरे पर लगाएं। सूखने के बाद इसे पानी से धो लें।

English summary

Home Remedies To Reduce Body Heat During Pregnancy

Here are some home remedies to reduce body heat during pregnancy.
Please Wait while comments are loading...