हल्दी को काली मिर्च के साथ खाने से आपको होते हैं ये 3 बड़े फायदे

Posted By: Lekhaka
Subscribe to Boldsky

हल्दी के सभी स्वास्थ्य पाने के लिए आपको इसका इस्तेमाल काली मिर्च के साथ करना चाहिए। हल्दी में पाए जाने वाले केमिकल तत्व क्युरक्यूमिन में चिकित्सीय गुण होते हैं।

इसी तरह काली मिर्च में पाए जाने वाला तत्व पीपरिन इसके टेस्ट और हेल्थ बेनिफिट्स के लिए जिम्मेदार है। जब क्युरक्यूमिन को पीपरिन के साथ जोड़ा जाता है, तो आपको अधिक फायदे मिलते हैं।

 3 reasons why you should always have turmeric with black pepper
Turmeric Water combination prevent you from Cancer
बायोवेलएबिलिटी क्या है?

भोजन की बायोवेलएबिलिटी भोजन में पोषक तत्वों की मात्रा है, जो शरीर को अवशोषण और चयापचय के लिए उपलब्ध है। सभी चीजों में सामान बायोवेलएबिलिटी नहीं है।

दुर्भाग्य से हल्दी एक ऐसी चीज है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ तो हैं, लेकिन यह सबसे कम बायोवेलएबिलिटी वाली चीजों में से एक है। हल्दी में मौजूद क्युरक्यूमिनरीर द्वारा तेजी से चयापचय और उत्सर्जित होता है। यहां तक ​​कि अगर आप हल्दी का भरपूर सेवन कर रहे हैं, तो भी आपके शरीर को पूर्ण लाभ नहीं मिल सकते हैं।

turmeric

हल्दी में काली मिर्च जोड़ने से कैसे मदद मिलती है?

काली मिर्च में मौजूद पीपरिन आपके लीवर को क्युरक्यूमिन को हटाने से रोकता है, इससे पहले कि आपके शरीर को इसका पूरा लाभ मिले। यह पेट में क्युरक्यूमिन को रखने का समय बढ़ाकर मेटाबोलिज्म रेट को स्लो करता है।

इसके अलावा यह एंजाइमों को बाधित करता है जो कि इसे जल्दी मेटाबोलाइज कर सकते हैं। ये शरीर को इसे पूरी तरह से अवशोषित करने में मदद करता है।

black pepper

काली मिर्च नसों को टॉक्सिन से बचाने में मदद करती है

हल्दी में मौजूद पॉलीफेनोल क्युरक्यूमिन को ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करके तंत्रिकाओं की रक्षा के लिए जाना जाता है। लेकिन इसकी खराब बायोवेलएबिलिटी के कारण, हल्दी अपने आप यह काम नहीं कर सकती है।

वैज्ञानिकों ने चूहों को न्यूरोटॉक्सिन 3-नाइट्रोप्रोपोनिक एसिड के साथ हल्दी और काली मिर्च का इंजेक्शन दिया। रिसर्च में पाया गया कि नसों पर विषाक्त पदार्थों के हानिकारक प्रभाव को कम करने में काली मिर्च द्वारा हल्दी का प्रभाव बढ़ाया गया था।

काली मिर्च गॉलस्टोन के गठन को रोकने में हल्दी की मदद करती है हल्दी गॉलस्टोन को कम करने में मदद करती है। इसकी क्षमता बढ़ाने के लिए शोधकर्ताओं ने गॉलस्टोन को हटाने के लिए हल्दी में काली मिर्च मिलाकर इस्तेमाल किया।

काली मिर्च ऑस्टियोक्लास्ट के गठन को दबाने में हल्दी की मदद करती है

ऑस्टियोक्लास्ट हड्डी की कोशिकाएं हैं। यह हड्डी में ऊतकों को तोड़ती हैं और खून में मिनरल्स और कैल्शियम को जारी करती हैं। यह ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है।

जर्नल ऑफ़ एन्डोडोंटिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि काली मिर्च के साथ हल्दी का संयोजन ऑस्टियोक्लास्ट के गठन को रोकने में मदद करता है।

English summary

3 reasons why you should always have turmeric with black pepper

Turmeric and black pepper are two accomplished giants that are great on their own. Turmeric has numerous antimicrobial and anti-inflammatory properties.
Story first published: Wednesday, July 19, 2017, 15:30 [IST]
Please Wait while comments are loading...