मर्दाना शक्ति बढ़ानी हो या ब्रेस्‍ट के साइज, सर्दियों में जरुर खाएं गोंद के लड्डु

Posted By:
Subscribe to Boldsky

सर्दियों का मौसम आ चुका है, अब सीजन बदलते ही खान पान में भी बदलाव आएंगे। सर्दियां आते ही उत्‍तर भारत में घरों में पारम्‍पारिक रुप से बनने वाले लड्डू आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर होते है, नानी दादी के नुस्‍खों से बनाए जाने वाले ये लड्डू जायके के साथ सेहतमंद बनाएं रखते है।

ठंड के समय पाचन शक्ति अच्छी रहती है और भूख भी खुलकर लगती है| इसलिए इस वक्त हैवी खाना भी आसानी से हजम हो जाता है। सदिर्यों में न सिर्फ गोंद के लड्डू शरीर को बीमारियों से बचाएं रखते है बल्कि ये शरीर को नियमित तापमान में बनाएं रखता है, इस लड्डू में पड़ने वाले चमत्‍कारी जड़ी बूटियां जैसे कालीमिर्च, सौंठ, अश्‍वगंधा, और बूरा, पीपल, शरीर को बीमारियों से बचाने के साथ मस्तिष्‍क को तेज बनाने में सहायक होते है। 

आइए जानते है गोंद के लड्डु सर्दियों में खाने के फायदें। काली चाय पीने के ये 18 फायदे... पिएंगे तो खुद जान जाएंगे

प्रेगनेंसी के बाद खिलाएं

प्रेगनेंसी के बाद खिलाएं

प्रेगनेंसी के बाद गोंद के लड्डू खाने से ताकत मिलती है। इससे मां और बच्‍चा दोनों हेल्‍दी रहती है, गोंद ब्रेस्‍टफीड करवाने वाले मांओं में मिल्‍क प्रोडक्‍शन बढ़ाता है। जिन महिलाओं का वजन कम है, वो गोंद के लड्डू खाकर दूध पिएं तो इससे वजन बढ़ेगा और कमजोरी भर दूर होगी।अगर सर्दियों में बाजरा नहीं खाया, तो क्‍या खाया?

इम्‍यूनिटी बढ़ाए

इम्‍यूनिटी बढ़ाए

सुबह सुबह दूध के साथ एक लड्डू खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। यह सर्दी के मौसम में शरीर में एनर्जी बनाएं रखता है।

मांसपेशियों को मजबूत करता है

मांसपेशियों को मजबूत करता है

गोंद का सेवन ह्रदय रोग के खतरे को कम करता है, साथ ही इसमें मौजूद प्रोटीन और कैल्शियम होता है, इससे हडि्डयां और मांसपेशियों को मजबूत करता है।

आयरन

आयरन

गोंद के लड्डू में आयरन होता है, इससे ब्‍लड सर्कुलेशन इम्‍प्रूव होता है, भरपूर ताकत मिलती है। इसके अलावा इसमें मौजूद फाइबर्स से डाइजेशन इम्‍प्रूव होता है। पेट की प्रॉब्‍लम दूर होती है।

बच्‍चों के लिए अच्‍छे

बच्‍चों के लिए अच्‍छे

ठंडी के दिनों में शरीर को ऊर्जा देने के लिए गोंद से बने लड्डू से ताकत मिलती है| रोजाना सुबह नाश्ते में 1 या 2 लड्डू गोंद के खाकर आप खुद को सर्दियों में स्वस्थ रख सकते है| इससे शरीर को गर्मी मिलती है और सर्दी नहीं लगती|, इसलिए बच्चो के लिए तो यह बहुत ही अच्छे होते है।

ब्रेस्‍ट साइज के लिए

ब्रेस्‍ट साइज के लिए

अगर आप अपने ब्रेस्‍ट की साइज से खुश नहीं है तो आपको गोंद के लड्डू खाने चाहिए, इसमें मौजूद क्‍लोरिफिक गुण आपके ब्रेस्‍ट के फैट को बढ़ाने में मदद करता है।

मर्दाना शक्ति बढ़ाने के लिए

मर्दाना शक्ति बढ़ाने के लिए

गौंद को पानी या दूध में भिगोकर खाने से पुरुषों की सेक्‍स ड्राइव बढ़ती है, जिससे वो सेक्‍स के दौरान अच्‍छा परफॉर्मेंस देते हैं।

ब्‍यूटी बढ़ाने के लिए

ब्‍यूटी बढ़ाने के लिए

इन् लड्डू को सुबह 5 बजे उठकर खाया जाये और फिर थोड़ी देर सो लिया जाये तो इसका अधिक फायदा मिलता है| इसमें मौजूद काजू- बादाम और घी के कारण चेहरे पर चमक आती है|

ऐसे बनाएं ये गौंद के लड्डू

ऐसे बनाएं ये गौंद के लड्डू

इन् गोंद के लड्डू को आप 1 महीने तक इस्तेमाल कर सकते है। गोंद के लड्डू में ड्राई फ्रूट्स के अलावा गोंद के साथ मूंग दाल का आटा और सोयाबीन का आटा और भी डाला जाता है। ये सभी शरीर को प्रोटीन और अन्य पोषक तत्व देते हैं| इसलिए बच्चे को जनम देने के बाद यदि यह माँ को खिलाया जाये तो वो जल्दी ठीक हो सकती है।

सामग्री:-

गोंद - 1 कप (100 ग्राम)

घी- 500 ग्राम

गुड़- 600 ग्राम

किशमिश, मखाने - 100 ग्राम

बादाम, काजू, खारिक - 200 ग्राम

बनाने की विधि:-

सारे सूखे मेवे को मिक्सर में चलाकर बारीक़ कर ले या छोटे-छोटे टुकड़ो में काट लें|

अब गोंद को ओखली में छोटा-छोटा करके तोड़ ले|

कढ़ाई में घी डाल कर गर्म करले|

अब गर्म घी में गोंद के टुकड़े डालकर उसे हल्का ब्राउन होने तक सेक लें|

फिर ठंडा करने के लिए प्लेट में निकाल ले|

अब कढ़ाई में थोड़ा और घी डाल कर गर्म करें| गुड़ को तोड़ कर टुकड़े कर लें, और घी में डालकर पिघला लें|

गुड़ की गाढ़ी चाशनी बनने तक रुके|

अब गुड़ की चाशनी में पीसी गोंद, सारे मेवे अच्छी तरह मिलाकर लड्डू का मिक्सचर तैयार कर लें|

अब इस मिश्रण को हाथ में लेकर हाथों से गोल-गोल लड्डू बनाकर तैयार करें|

आप अपने अनुसार छोटे या बड़े लड्डू बना सकते है|

English summary

Do You Know These Amazing Health Benefits of Gondh?

These health benefits of Gondh (a.k.a edible gum) will blow your mind.
Please Wait while comments are loading...