बर्गर से ज्‍यादा हेल्‍दी है समोसा क्‍योंकि ऐसा साइंस ने है कहा, पढ़ें REPORT

Subscribe to Boldsky

क्‍या आप उनमें से एक हैं जिसका दिल पूरी तरह से देसी है और पिज्‍जा, बर्गर खाने की जगह पर केवल समोसे का ही चुनाव करते हैं? लेकिन अगर अब आपने अपनी हेल्‍थ को मेंटेन करने के चक्‍कर में समोसे को भी खाना छोड़ रखा है तो आपके लिये एक अच्‍छी खबर है। जी हां, सेंटर फॉर साइंस एंड एन्वायरमेंट (CSE) की एक नई रिपोर्ट सोमवार को जारी की गई है, जिसमें बताया गया है कि एक व्‍यक्‍ति के लिये एक

समोसा एक बर्गर की तुलना में काफी ज्‍यादा हेल्‍दी होता है। ऐसा इसलिये क्‍योंकि समोसा बनाने के लिये ताजी सामग्रियों का उपयोग किया जाता है और ना तो इसका स्‍वाद बढाने के लिये इसमें आर्टिफिशियल फ्लेवर डाला जाता है और ना ही प्रिजर्वेटिव्स की मिलावट होती है।

1

हो सकता है कि एक समोसा खाने से आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा काफी बढ़ जाए लेकिन यह पूरी तरह से रासायन मुक्त पदार्थों से बनता है जैसे, मैदा, जीरा, उबला हुआ आलू, मटर, नमक, मिर्च, मसाले, वनस्पति तेल या घी।

दूसरी ओर अगर देखा जाए, तो एक बर्गर बनाते वक्‍त उसमें भारी मात्रा में प्रिजर्वेटिव्स, अम्लता नियामक, सुधारक और एंटीऑक्सीडेंट के साथ मैदा, चीनी, वीट ग्‍लूटन, वनस्पति तेल, खमीर, नमक, सोया फ्लोर, तिल के बीज, सब्जियां, मेयोनेज़, पनीर या आलू पैटी होती है।

इस रिपोर्ट समोसे के अलावा अन्‍य इंडियन स्‍नैक के बारे में भी जानकारी दी गई जैसे पोहा और जूस। पोहा जो कि नेचुरल चीज़ों से मिला कर बनाया जाता है तथा जूस जो कि सिर्फ पानी और फल से तैयार किया

जाता है वह भी नूडल्‍स और केन जूस से लाख गुना सेहतमंद होता है। नूडल्‍स आदि में सिंथेटिक कलर और एडिड फ्लेवर्स मिलाए जाते हैं।

अल्‍ट्रा प्रोसेस्‍ड फूड में काफी कैमिकल्‍स पाए जाते हैं तो वहीं फ्रेश फूड में आपको ज़रा से भी कैमिकल्‍स नहीं मिलेंगे। बेकार के जंक फूड खाने से आपकी बॉडी को कई सारी बीमारियां हो सकती हैं।

आप को जानकारी दे दें कि CSE ने 'Know Your Diet' सर्वे कंडेक्‍ट किया था जिसमें लगभग 13,000 स्‍कूल के बच्‍चे (9-17 वर्ष) शामिल किये गए। इस स्‍टडी में सात मेजर हेल्‍थ प्रॉब्‍लम्‍स पर फोकस किया गया

जो कि भारत में बड़ी तेजी के साथ फैल रही हैं। इनमें से ओबेसिटी, मेंटल हेल्‍थ, कैंसर, दिल की बीमारी, सांस और हार्मोन डिसऑर्डर शामिल हैं।

2005 और 2015 के बीच में भारत में ओवरवेट और ओबीज लोंगो की संख्‍या बड़ी तेजी से दोगुनी हुई है। वहीं दिल की बीमारी की वजह से 26% लोंगो ने जान गवाई है। तो अब आपको समोसा खाने के पहले डरने

की कोई जरुरत नहीं है क्‍योंकि सांइस ने भी इसे बर्गर से हेल्‍दी मान लिया है। पर हां, अगर आप डाइट पर हैं तो दो समोसे की जगह पर केवल एक ही समोसे का आनंद उठाइये।

English summary

बर्गर से ज्‍यादा हेल्‍दी है समोसा क्‍योंकि ऐसा साइंस ने है कहा, पढ़ें REPORT | Samosa is ‘healthier’ than burger: CSE report

A samosa is better for an individual’s health than a burger because it is made using fresh ingredients and is free of additives, preservatives and flavourants, according to a new Centre for Science and Environment report released on Monday.
Story first published: Tuesday, November 28, 2017, 16:47 [IST]
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more