किडनी की पथरी के इलाज के लिए पियें अदरक और हल्दी की चाय

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

किडनी हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है और इसमें किसी तरह की खराबी से पूरे शरीर का स्वास्थ्य बिगड़ने लगता है। किडनी की पथरी किडनी से जुड़ी सबसे मुख्य समस्या है जिसके मरीजों की तादात लगातार बढ़ती ही जा रही है।

कुछ मरीजों में ऑपरेशन के बाद भी दोबारा स्टोन की समस्या हो जाती हैं वहीँ कुछ लोगों में इन स्टोन का साइज़ बढ़ता जाता है। किडनी स्टोन से बचने के लिए कई तरह के ट्रीटमेंट उपलब्ध हैं लेकिन कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर भी आप किडनी की पथरी को बढ़ने से रोक सकते हैं।

किडनी की पथरी का साइज़ बालू के कण से लेकर एक छोटे कंकड़ के जैसा भी हो सकता है जो आपके मूत्र नली के मार्ग से बाहर निकलता है।

इस पथरी का साइज़ जितना बड़ा होगा मरीज की मुश्किलें भी उतनी बढती जायेंगी और इलाज में भी उतनी ही ज्यादा कठिनाई होगी। वैसे तो बड़े साइज़ की पथरी को हटाने के लिए सर्जरी ही सबसे बेहतर उपाय है लेकिन अगर साइज़ बहुत छोटा है तो आप घरेलू उपचारों से भी उसे ठीक कर सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम आपको ऐसा ही एक घरेलू उपाय बता रहे हैं जिसमें अदरक और हल्दी का इस्तेमाल किया गया है। ये दोनों चीजें हर घर में आसानी से उपलब्ध रहती हैं। आइये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

किडनी स्टोन से राहत के लिए पियें अदरक और हल्दी की चाय :

किडनी स्टोन से राहत के लिए पियें अदरक और हल्दी की चाय :

अदरक और हल्दी दोनों में ही एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं साथ ही ये बॉडी को डीटॉक्सीफाई करने में बहुत मदद करते हैं। अदरक और हल्दी की चाय के नियमित सेवन से किडनी स्टोन से राहत मिलती है बशर्ते स्टोन का साइज़ छोटा हो।

#अदरक के फायदे :

#अदरक के फायदे :

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी और डीटॉक्सीफाइंग यौगिकों की मात्रा काफी ज्यादा होती है साथ ही इसके सेवन से आपका पाचन तंत्र भी बेहतर होता है। इसमें एंटी बैक्टीरियल और डायूरेटिक गुण होते हैं जिस वजह से इसके सेवन से आपको बार बार पेशाब लगती है। बहुत पहले से ही यूरिनरी सिस्टम से जुड़ी समस्याओं के इलाज में अदरक का इस्तेमाल किया जाता है। अदरक में मौजूद जिंजेरोल (gingerol) नामक यौगिक स्टोन के छोटे टुकड़ों को तोड़कर और छोटे टुकड़ों में तब्दील कर देता है जिससे ये मूत्र के साथ आसानी से बाहर निकल जाते हैं। इस प्रक्रिया में कोई दर्द भी नहीं होता है।

# हल्दी के फायदे:

# हल्दी के फायदे:

हल्दी खून को साफ़ करने में अहम रोल निभाती है जिससे किडनी का स्वास्थ्य बेहतर बना रहता है। इसमें मौजूद कर्कुमिन (curcumin) नामक एंटीऑक्सीडेंट आपको कई अन्य तरह की बीमारियों से बचान में मदद करता है। सालों पहले से किडनी को प्यूरीफाई करने के लिए हल्दी का इस्तेमाल होता रहा है। इसके नियमित सेवन से ये किडनी में होने वाली सूजन को कम करती है और टॉक्सीन को शरीर से बाहर निकालने में मदद करती है। इसके अलावा हल्दी यूरिनरी ट्रैक्ट को भी सुरक्षा प्रदान करती है। इसके सेवन से यूरिनरी ट्रैक्ट के आस पास एक ऐसा सुरक्षा कवच बन जाता है जिससे बैक्टीरिया और वायरस से उसका बचाव होता रहता है।

 अदरक और हल्दी वाली चाय की रेसिपी :

अदरक और हल्दी वाली चाय की रेसिपी :

किडनी की बीमारियों से निजात पाने का यह बहुत ही पुराना और प्रचलित घरेलू उपाय है। अदरक और हल्दी दोनों ही किडनी में होने वाली सूजन को कम करते हैं और किडनी स्टोन को नष्ट करने में मदद करते हैं। इस चाय के और भी कई फायद हैं जैसे कि इसके नियमित सेवन से कार्डियोवैस्कुलर बीमारियों से आपका बचाव होता है और आपकी सोचने समझने की क्षमता और बेहतर होती है।

सामग्री :

सामग्री :

  • 1-2.5 इंच लम्बा अदरक
  • एक चम्मच हल्दी
  • आधा लीटर पानी
  • एक चम्मच आर्गेनिक शहद (वैकल्पिक)
बनाने की विधि:

बनाने की विधि:

एक बर्तन में पानी गर्म करें और ये जब उबलने लगे तो उसमें अदरक और हल्दी पाउडर डालें। इस मिश्रण को 10-15 मिनट तक उबालें जिससे अदरक और हल्दी का सारा अर्क पानी में मिल जाए। अब आंच बंद करके इस मिश्रण को छननी से एक कप में छान लें। अब इसमें एक चम्मच शहद मिला लें जिससे इसका स्वाद कड़वा न लगे। इस चाय को रोजाना खाली पेट पियें।

नोट :

नोट :

  • जो लोग लीवर से जुड़ी बीमारियों से पीड़ित हैं वे इस ड्रिंक का सेवन न करें
  • ये ड्रिंक अल्सर, गैस्ट्राइटिस या इरीटेबल बोवेल सिंड्रोम के मरीजों पर उल्टा असर कर सकती है इसलिए वे लोग भी इसका सेवन न करें।

    अगर इस समय आप कोई फार्मकलाजिकल ट्रीटमेंट करवा रहे हैं तो इस चाय को पीने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें।

  • यह सच है कि इस ड्रिंक को पीने से किडनी स्टोन से राहत मिलती है लेकिन फिर भी अगर आपको किडनी स्टोन की समस्या है तो साथ में डॉक्टर से चेकअप ज़रूर करवाते रहें।
English summary

Treat Kidney Stones Naturally with Ginger and Turmeric Tea

In this article, we want to share a ginger and turmeric tea with you. Ginger and turmeric are two anti-inflammatory and depurative ingredients that can really help.
Story first published: Thursday, June 15, 2017, 13:40 [IST]
Please Wait while comments are loading...