अगर पेशाब में आता है झाग तो हो सकती है खतरे की घंटी

Posted By:
Subscribe to Boldsky

जब आप पेशाब करते हैं, तो अगर वह साफ है, तो आपका स्वास्थ्य ठीक है, लेकिन अगर मूत्र में गहरे रंग का है या उसमे गंध और बुलबुले आ रहे हैं तो यह किसी समस्या का संकेत हैं। कभी कभी बुलबुले सरल कारणों से आते है जैसे तेज़ी से पेशाब करना या मूत्राशय में डिटर्जेंट बचा रहना, अगर ऐसा है तो चिंता न करें। लेकिन अगर आपको हर रोज पेशाब में बुलबुले दिखते हैं, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करने की आवश्यकता हो सकती है।

causes of foamy urine other than protein

अगर यूरिन में झाग नियमित रूप से है तो आपको डॉक्टर कि सलाह लेने की जरुरत है। आइए जानते है कि आखिर पेशाब में झाग बनने के अमुमन क्या क्या क्या कारण हो सकते है।

 डिहाइड्रेशन

डिहाइड्रेशन

शरीर में पानी की कमी के चलते भी कई बार यूरीन में बब्लस बनते है। क्योंकि जब हमारी बॉडी डिहाइड्रेड होती है तो शरीर में से प्रोटीन और कुछ केमिकल्स निकलते है। इसलिए जहां तक हो सके खूब पानी पीएं।

प्रेग्रेंसी

प्रेग्रेंसी

प्रेग्रेंसी के दौरान शरीर में बहुत से बदलाव होते है। इन्हीं बदलावों में से एक है यूरिन में झाग बनना, ऐसा इसलिए क्योंकि प्रेगेंसी के समय किडनी को ज्यादा काम करना पड़ता है। जिसकी वजह से प्रोटीन लीक होता है और इसी वजह से यूरीन में बब्ल्स बनते है।

स्ट्रेस

स्ट्रेस

जब आप परेशान और स्ट्रेस में होते है तब भी यूरीन में बब्लस बनते है। इसकी वजह है एलब्यूमिन, एक तरह का प्रोटीन जो कि यूरिन में पाया जाता है। असल में ज्यादा स्ट्रेस में होने कि वजह से किडनी से यह प्रोटीन लीक आउट हो जाता है।

 डायबिटिज

डायबिटिज

हाई ब्ल्ड प्रेशर किडनी के लिए अच्छा नहीं है, क्योंकि इसका सीधे असर से भी यूरीन में बब्लस बनते है। डायबिटीज होने पर भी किडनी खराब हो सकती है। जिन लोगों को डायबिटीज होती है उनके पेशाब में झाग और बबल्स आते हैं। अगर आपने लंबे समय से अपने शुगर की जांच नहीं कराई तो डायबिटिक स्पेशलिस्ट को दिखाएं। अच्छी तरह इलाज कराने से डायबिटीज और पेशाब में झाग आने की समस्या ठीक हो जाती है।

प्रोटिनयूरिया

प्रोटिनयूरिया

अगर यूरिन में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है तो इस ​सिचुएशन को प्रोटिनयूरिया या कहा जाता है। यह सिचुएशन इसलिए आती है, क्योंकि किडनी बेहतर तरीके से प्रोटीन फिल्टर नहीं कर पाती, ऐसी हालात में बेहतर है कि सही समय पर डॉक्टर्स से कन्सल्ट किया जाए।

UIT

UIT

यूटीआई या यूरीनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन महिलाओं में होने वाली एक आम लेकिन बड़ी समस्या है। यह गंदे वॉशरूम का इस्तेमाल करने से होता है। बैक्टीरिया यूरिनरी ट्रैक्ट में प्रवेश कर जाते हैं जिसकी वजह से उन्हें जलन का अनुभव होता है और पेशाब में झाग आने लगता है। इसलिए ऐसी समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें क्योंकि यूटीआई एंटीबॉयोटिक्स खाने के बाद ही ठीक होता है। इसके अलावा साफ वॉशरूम और सैनीटाइजर्स के इस्तेमाल पर भी ध्यान दें।

हार्ट समस्‍या

हार्ट समस्‍या

यूरिन में झाग बनने का इशारा कई बार कार्डियोवैसुलर की तरफ भी होता है। यूरिन में प्रोटीन की ज्यादा मात्रा होने के कारण स्ट्रोक के चांस भी ज्यादा बनते है।

English summary

Foam Or Bubbles In Urine?

Find out what makes your urine foam up and what you should do about it if it happens.
Story first published: Wednesday, February 14, 2018, 13:00 [IST]