क्‍यों जरुरी है हेल्‍दी बॉडी के लिए विटामिन 'बी' 6?

Subscribe to Boldsky

क्‍या आप अपने डाइट में विटामिन बी 6 युक्‍त खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं? कई लोग ऐसा नहीं करते और विटामिन बी 6 की कमी की वजह से कई शारीरिक समस्‍याओं से ग्रस्‍त रहते है।

पायरीडोक्सीन या पिरीडाक्सिन को विटामिन बी 6 के नाम से जाना जाता है। विटामिन बी 6, बी विटामिन का एक प्रकार है व कुछ विशेष खाद्य पदार्थ जैसे कि अनाज, बीन्स, सब्जियां, जिगर, मांस और अंडों में पाया जा सकता है। ये जरूरी पोषक तत्व हमारे भोजन को एनर्जी में बदलने में सहायक होता है।

हाल ही में हुई एक रिसर्च में सामने आया है कि जो लोग विटामिन बी 6 का सेवन करते है उन्‍होंने रात को सपने क्‍या देखा उन्‍हें सुबह तक अच्‍छे से याद रहता है। इसके अलावा ये विटामिन नींद की क्‍वालिटी को बढ़ाने के साथ ही थकान को भी दूर करता है। इसके अलावा शरीर में वसा और प्रोटीन के मेटाबोलिज्म के लिए ज़रूरी है। मस्तिष्‍क के विकास और उसके कार्यप्रणाली के लिए विटामिन बी 6 जरुरी तत्‍व है। जो न सिर्फ दिमागी तौर पर हमें तंदरुस्‍त रखता है बल्कि यह विटामिन हीमोग्लोबिन के निर्माण मे मदद करता है। आज जानते है कि विटामिन "बी" 6 शरीर के लिए क्‍यूं आवश्‍यक है और इसके स्‍त्रोत क्‍या है? विटामिन बी 12 की कमी पूरी करेंगे ये खाद्य पदार्थ

 The Health and Brain Benefits of Vitamin B6

मस्तिष्‍क और तंत्रिका तंत्र के जरुरी
शरीर को सुचारु रूप से चलाने में विटामिन्स और माइक्रोन्यूट्रीएंट्स बहुत जरूरी होते हैं, पर विटामिन बी कॉम्पलेक्स एक ऐसा तत्व है, जो मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र के सही से काम करने में मदद करता है। विटामिन बी कॉम्पलेक्स मेटॉबालिज्म बढ़ाता है। यह पोषण को ऊर्जा में बदलने के काम करता है।

हमारी कोशिकाओं में पाए जाने वाले जीन डीएनए को बनाने और उनकी मरम्मत में सहायता करता है। यह ब्रेन, स्पाइनल कोर्ड और नसों के कुछ तत्वों की रचना में भी सहायक होता है। हमारी लाल रक्त कोशिशओं का निर्माण भी इसी से होता है। यह शरीर के सभी हिस्सों के लिए अलग-अलग तरह के प्रोटीन बनाने का भी काम करता है।

थकावट और सुस्‍ती 

विटामिन बी 6 की कमी होने पर जरा-सा काम करने पर थकावट महसूस होने लगती है। सारा दिन सुस्ती पड़ी रहती है। यह इसके खास लक्षण है। इसके अलावा मुंह और जीभ में सूजन भी इसकी कमी के लक्षण है। जीभ में दर्द भी हो सकता है। क्या हमेशा थकान महसूस होती है? ये हैं कारण

स्किन की समस्‍या 

विटामिन B6 के सबसे महत्वपूर्ण लाभ में से एक यह है कि यह मनुष्य की त्वचा को अच्छी स्थिति में बनाए रखने में सहायता करता है। यह अनेक त्वचा संबंधी समस्याओं जैसे एक्जिमा, रूसी, मुंहासें, बालों का झड़ना और सुखी त्वचा के उपचार में सहायता करता है। इसके अधिक यह गंभीर त्वचा रोगों जैसे मेलेनोमा और सोराइसिस आदि के उपचार में सहायता करता है।

पथरी होने से रोकता है
विटामिन B6 मानव हृदय में जमा होने वाले वसा के स्तर को नियंत्रित करने में सहायता करने के साथ ही विटामिन B6 किडनी में पथरी के निर्माण को भी रोकता है जिससे मानव शरीर के इस महत्वपूर्ण अंग को सही आकार में बनाए रखता है।

इमोशनल डिसऑर्डर
इसके अलावा इसकी कमी होने पर इमोशनल डिस्आर्डर, दिल से जुड़ी बीमारियां, किडनी रोग, मल्टीपल स्क्लेरोसिस, एनीमिया जैसी समस्याओं के चांस बढ़ जाते हैं।

प्रीमेन्स्ट्रुअल सिंड्रोम
विटामिन B6 महिलाओं में होने वाले प्रीमेन्स्ट्रुअल सिंड्रोम में भी भूमिका निभाता है। दरअसल पीरियड आने से पहले ही शरीर में पाइरिडॉक्सिन की आपूर्ति कम हो जाती है जिससे चिड़चिड़ापन, यौन रूचि की कमी और अन्य समस्याएं बढ़ती है। इस स्थिति में विटामिन B6 से भरपूर आहार का सेवन सबसे प्रभावी उपचार है।

विटामिन बी 6 के लिए ये खाएं

साबुत अनाज
अगर आप वेजिटेरियन है तो इसके सबसे अच्छे स्त्रोत साबुत अनाज जैसे गेंहू, बाजरा, जौ, मक्का, मटर, ग्रीन बीन्स, अखरोट आदि हैं। इसके अलावा केले, बंद गोभी, सोया बीन्स, गाजर और हरी सब्जियों को भी अपनी डाइट में ले सकते हैं।

नॉनवेज से
नॉन-वेज खाने वाले मछली, अंडे, चिकन, मटन आदि का सेवन करें।

एवोकाडो और पालक
विटामिन B 6 सूरजमुखी के बीज, पिस्ते, मछली, पोर्क, चिकन, सूखे मेवे, केले, एवोकाडो और पालक मे अधिक मात्रा मे पाया जाता है।

आलू और स्‍टार्च वाली सब्जियां
आलू और अन्य स्टार्च वाली सब्जियां, फल (खट्टे फलों के अलावा) आदि भी इस विटामिन के अच्छे स्रोत हैं।

English summary

क्‍यों जरुरी है हेल्‍दी बॉडी के लिए विटामिन 'बी' 6? | The Health and Brain Benefits of Vitamin B6

Vitamin B6 is important for heart health, the digestive tract, muscular function, energy, and a whole lot of other bodily processes, too.
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more