For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

फैटी लीवर के पीछे होती है ये वजह, इन लोगों को रहना चाह‍िए सर्तक

|

फैटी लिवर एक मेडिकल कंडीशन है जिसमें लिवर में फैट जिसे हम हिंदी में वसा या चर्बी कहते हैं का जमाव हो जाता है। इसका कारण शराब का सेवन, अनावश्यक दवाइयों का सेवन, कुछ तरह के वायरस इनफेक्शन जैसे हेपेटाइटिस सी हो सकते हैं। परंतु आज के दौर में इसका प्रमुख कारण हमारी अनियंत्रित लाइफस्टाइल और इससे जुड़ी बीमारियां हो सकती है।

लिवर में फैट जमा होने की संभावना उन लोगों में ज्यादा होती है जिन्हें मोटापा, डायबिटीज या उनके ब्लड में कोलेस्ट्रॉल यानी फैट की मात्रा ज्यादा हो। ऐसे लोगों में लिवर में फैट जमने की संभावना लगभग 60% होती है। इस तरह के व्यक्तियों में लिवर में फैट जमा होने को हम नॉन अल्कोहोलिक फैटी लीवर डिजीज कहते हैं। इसके विपरीत शराब से होने वाले फैटी लिवर को हम एल्कोहोलिक फैटी लिवर डिजीज कहते हैं। आइए जानते हैं क‍ि क‍िन चीजों को खाने से ये समस्‍या दूर होती है।

ये काम होता है लि‍वर का

ये काम होता है लि‍वर का

भोजन को पचाने और पित्‍त बनाने का काम करता है लिवर

हमारे शरीर में दूसरा सबसे बड़ा माने जाने वाला अंग लिवर ही है। लीवर हमारे शरीर में भोजन पाचन करने से लेकर पित्त बनाने का काम करता है। यदि लिवर में किसी भी तरह की कोई समस्या आती है तो यह सारे कार्य स्थगित हो जाते है। शोधकर्ताओं के अनुसार यह बताया गया है कि जिन लोगों में फैटी लिवर की समस्या पाई जाती है उन्हें भविष्य में डायबिटीज होने का खतरा हो सकता है। इसलिए एक स्वस्थ जीवन जीने के लिए आवश्यक है कि इन बीमारियों से जल्दी ही निजात पाया जाए।

फैटी लीवर आसानी से नहीं लगता पता

फैटी लीवर आसानी से नहीं लगता पता

फैटी लीवर आपके सिरोसिस को भी बढ़ा सकता है। अगर सही समय पर बीमारी का पता नहीं लग पाता है तो फैटी लीवर की वजह से आपका लीवर सिकुड़ने लगता है और हार्ड भी हो जाता है। जिससे आपको सिरोसिस की बीमारी का शिकार हो सकते हैं।

ये लोग रहें बचके

ये लोग रहें बचके

जिनको डायबिटीज और हाई कॉलेस्‍ट्रॉल की समस्या है, या उनका वजन बहुत ज्यादा है उन लोगों में फैटी लीवर की बीमारी ज्यादा होती है।

फैटी लिवर के कारण (fatty liver causes ) :

फैटी लिवर के कारण (fatty liver causes ) :

बदलते खान-पान स्टाइल ने आज के समय में फैटी लिवर के मरीज़ो की संख्या में काफी वृद्धि की है। इसके अलावा इन कारणों की वजह से भी व्यक्ति को फैटी लिवर जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे:-

1. शरीर में विटामिन बी की कमी होना।

2. अधिक मात्रा में एल्कोहल का सेवन करना।

3. अधिक कॉलेस्ट्रॉल वाला आहार लेना।

4. आपकी लाइफस्टाइल की वो आदतें जो आपके हेल्‍थ और गलत खानपान से जुड़ी हैं, जैसे फास्ट-फूड व तले हुए खाने का सेवन करना।

5. दूषित मांस खाना, गंदा पानी पीना, मिर्च मसालेदार और चटपटे खाने का अधिक सेवन करना।

6. पीने वाले पानी में क्लोरीन की मात्रा का अधिक होना।

7. एंटीबायोटिक दवाईयों का अधिक मात्रा में सेवन करना।

8. मलेरिया, टायफायड से पीडि़त होना।

9. सौंदर्य वाले कास्मेटिक्स का अधिक इस्तेमाल करना।

10. हेपेटाइटिस ए, बी या सी इंफेक्शन।

1. लहसुन

1. लहसुन

जी दरअसल लहसुन बॉडी की फैट कम करने और फैटी लिवर रोग से गुजर रहे मरीजों के लिए एक वरदान है. इसे खाना चाहिए।

2. अखरोट

2. अखरोट

आप जानते ही होंगे ओमेगा -3 फैटी एसिड अखरोट में होता है और यह लिवर को स्वस्थ्य बनाए रखने में बहुत मदद करते हैं. इसी के साथ स्टडी से पता चला है कि अखरोट खाने वाले लोगों में गैर-मादक फैटी लिवर रोग की संभावना बहुत कम होती है।

3. ग्रीन टी

3. ग्रीन टी

ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जिन्हें कैचिन कहा जाता है. यह एक तरह के यौगिक होते हैं, जो लिवर फंक्शन को सही तरीके से चलाने और लिवर फैट से छुटकारा दिलाने में भरपूर मदद करते है।

4. हल्दी

4. हल्दी

हल्दी को सबसे असरदार मसालों में से एक माना जाता है, यह लिवर को क्षतिग्रस्त होने से पूरी तरह से रोक देता है और उसे स्वस्थ बनाए रखता है।

5. शराब

5. शराब

फैटी लीवर की समस्या है तो बिल्कुल न पिएं शराब

जिन लोगों को फैटी लीवर की समस्या है। उन लोगों को शराब बिल्कुल भी नहीं पीना चाहिए। शराब पीने से लीवर खराब हो जाता है। शराब से लीवर पर फैट भी बढ़ता है।

English summary

Fatty Liver: Causes, Symptoms, and Home Remedies

Too much fat in your liver can cause liver inflammation, which can damage your liver and create scarring. In severe cases, this scarring can lead to liver failure.