क्या प्रसव के बाद माताओं के लिए घी खाना स्वास्थ्य की दृष्टि से अच्छा है?

Posted By: Staff
Subscribe to Boldsky

वेजिटेबल ऑइल की तुलना में घी को ज़्यादा अच्छा माना जाता है। ऑलिव ऑइल के बाद घी को ही स्वास्थ्य के लिए अच्छा और पोषण से भरपूर माना गया है। आपको प्रतिदिन के भोजन में घी को अवश्य शामिल करना चाहिए।

हालाँकि घी का बहुत अधिक उपयोग हानिकारक हो सकता है, विशेष रूप से प्रसव के बाद। वे माताएं जिन्होंने अभी अभी बच्चे को जन्म दिया है उन्हें उच्च कैलोरी युक्त भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए, विशेष रूप से अधिक तेल वाले पदार्थ नहीं खाने चाहिए।

औषधि के समान है गाय का घी

उदाहरण के लिए घी में कैलोरी और फैट्स होते हैं जिसका यदि अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो ये शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं।

ghee

आजकल स्त्री रोग विशेषज्ञ नई माताओं को सलाह देते हैं कि वे अपनी पसंद के भोजन में घी का इस्तेमाल संभलकर करें। पुराने समय में घर की बुज़ुर्ग औरतें नई माताओं को घी पीने की सलाह देती थी या भोजन में घी डालने के लिए कहती थी; हालाँकि आजकल यह सब झूठ है।

देसी घी लगा कर पाएं चमकदार चेहरा और गुलाबी होंठ

मिथक के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि नई माताओं के जोड़ कमज़ोर हो जाते हैं तथा केवल घी में ही यह गुण होता है कि वह जोड़ों को अच्छे से काम करने में सहायक होता है।

ghee1

ऐसा भी कहा जाता था कि घी पीने से घाव जल्दी भरते हैं तथा अधिकाँश दादियों का ऐसा विश्वास है कि जब दूध पिलाने वाली माताओं को घी खिलाया जाता है तो दूध अच्छी गुणवत्ता का और अधिक मात्रा में आता है। तो नई माताओं के लिए घी किस प्रकार उपयोगी है? यदि आप नई नई मां बनी है तो आपके लिए इन तथ्यों को जानना बहुत आवश्यक है: प्रसव के पश्चात माताओं के जोड़ कमज़ोर नहीं होते न ही जोड़ों के बीच की चिकनाई कम होती है।

ghee2

डॉक्टर ऐसा कहते हैं कि प्रसव के पश्चात आपकी हड्डियां कमज़ोर हो गयी हैं तो कैल्शियम से समृद्ध आहार लें। अपनी हड्डियों की ताकत बढ़ाने के लिए घी की तुलना में इन स्वास्थ्यप्रद पदार्थों का सेवन करना बुद्धिमत्तापूर्ण निर्णय है।

विशेषज्ञ कहते हैं कि वे माताएं जो प्रसव के बाद अधिक मात्रा में घी का सेवन करती हैं उन्हें प्रसव के बाद तीन भयानक समस्याओं जैसे मोटापा, हृदय की समस्या और कोलेस्ट्राल लेवल बढ़ने आदि का सामना करना पड़ता है जो हृदय के लिए अच्छा नहीं है।

प्रसव के बाद अपने आहार से घी को निकाल दें, क्योंकि यह और कुछ नहीं बल्कि एक प्रकार का मक्खन है किस्में प्रचुर मात्रा में फैट होता है। हालाँकि यह स्वादिष्ट पदार्थ एक गर्भवती महिला के आहार का हिस्सा अवश्य होना चाहिए क्योंकि यह प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है तथा जब आप गर्भवती होती हैं तो घी आपको स्वस्थ और सक्रिय रखता है।

इन 4 कारणों से आपको अपने आहार में घी शामिल करना चाहिए:

1. घी सिरदर्द और माइग्रेन से संबंधित समस्याओं से आराम दिलाता है।

2. घी त्वचा के लिए लाभकारी होती है तथा साथ ही साथ यह शरीर के सूजन को कम करता है।

3. घी का सेवन गर्भवती महिलाओं में चयापचय की प्रक्रिया को बढ़ाता है जिसके कारण गर्भवती महिलाओं को बार बार थकान का अनुभव नहीं होता।

4. घी पेट के लिए अच्छा होता है। इससे कब्ज़ की समस्या दूर होती है जो गर्भवती महिलाओं की एक मुख्य समस्या होती है।

English summary

क्या प्रसव के बाद माताओं के लिए घी खाना स्वास्थ्य की दृष्टि से अच्छा है?

Ghee is considered to be better than vegetable oil. Ranked among the healthiest and most nutritious one after olive oil, ghee should be added to every meal that you consume every day.
Please Wait while comments are loading...