जानें, प्रेगनेंसी में क्‍यूं खाना चाहिये अनार, कारण हैं बड़े हेल्‍दी

Posted By:
Subscribe to Boldsky

अनार एक सबसे हेल्‍दी फल होता है ये तो सभी जानते हैं। अगर आप प्रेगनेंट होती हैं तो आपको अपने खाने में काफी सुधार रखने की जरुरत पड़ेगी जिसके लिये आपको अपनी डाइट में ढेर सारे फलों का प्रयोग करना होगा। हो सकता है कि अब आपको अपने रिश्‍तेदारों से सलाह वगैरह भी मिलनी शुरु हो चुकी हो। ऐसे में प्रगनेंट महिलाओं को अनार खाने की खूब सलाह दी जाती है, जिससे उनका स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा होगा और बेबी भी अंदर फिट हो।

pomegranate

अनार में विटामिन C भरपूर मात्रा में होती है जो आपके शरीर में आयरन को बडाती है आयरन प्रेगनेंसी में बहुत महत्वपूर्ण होता है। अनार में एंटी आक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो पेट में शिशु के दिमाग की सुरक्षा करता है। अनार में विटामिन K होता है जो आपके शिशु की हड्डियों को मजबूत करता है अनार खाने से प्रेगनेंट महिला को भी ताकत मिलती है।

डॉक्‍टरों ने प्रेगनेंट महिलाओं को कभी अनार खाने से मना नहीं किया है लेकिन हां अगर आपको इससे एलर्जी वगैरह है तो आप इसे ना खाएं। नहीं तो इसे खाने में कोई दिक्‍कत नहीं आनी चाहिये। अगर आप प्रेगनेंट हैं और आपको मीठा खाने का भी काफी मन करता है तो एक मुठ्ठी अनार के दाने खा सकती हैं। या फिर आप इसके जूस का भी आनंद उठा सकती हैं। इससे आप अंदर से हाइड्रेट रहेंगी।

अपच की दिक्‍कत होती है दूर

अपच की दिक्‍कत होती है दूर

प्रेगनेंसी में अपच की दिक्‍कत होती है तो अनार के दाने खाएं। अनार खाने से ये प्राब्‍लम दूर होती है।

पेट की समस्‍या रहती है दूर

पेट की समस्‍या रहती है दूर

ग्रेगनेंसी में पेट से जुड़ी काफी समस्‍याएं हो जाती हैं। खास तौर पर आखिरी महीने में कब्‍ज बहुत रहता है। ऐसे मे अगर आपको कब्‍ज से बचना हो तो खाने में फाइबर से जुड़ी चीजों का सेवन करेंं। इसमें ढेर सारा फाइबर पाया जाता है इसलिये आधी कटोरी अनार के दाने तो जरुर खाएं। इससे पेट ठीक रहेगा और पेट साफ भी हो जाएगा।

मासपेशियों को आराम दे

मासपेशियों को आराम दे

अनार में ढेर सारा पोटैशियम होता है जो आपकी मासपेशियो और नसों को ठीक कर के दर्द को कम करता है, इसलिये प्रेगनेंसी में अनार जरुर खाना चाहिये।

एनीमिया से दिलाए छुटकारा

एनीमिया से दिलाए छुटकारा

अनार में आयरन की मात्रा भरपूर होती हैं। यदि प्रेगनेंसी में महिला अनार का सेवन करती हैं, तो ये शरीर में रक्त के संचार को बढ़ाता हैं। जिससे बच्चे में खून की मात्रा बढ़ती हैं, और बच्चे को खूबसूरत बन्नने में मदद मिलती है। और साथ ही अच्छी तरह से शरीर में रक्त का संचार होने के कारण बच्चे का मस्तिष्क का भी विकास होता हैं। इसीलिए गर्भवती महिला को अनार व् गाजर का जूस जरूर पीना चाहिए, इससे डिलीवरी के समय भी कम परेशानी होती है।

बच्‍चा कभी नहीं होगा अनहेल्‍दी

बच्‍चा कभी नहीं होगा अनहेल्‍दी

अनार के कई बडे़ फायदे हैं, जैसे अगर आपके घर में कोई गर्भवती महिला है तो आप उसे रोज अनार का जूस पिलाएं। इससे उसका बच्चा स्वस्थ पैदा होगा है और उसके बच्चे को कम वजन जैसी बीमारी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

क्‍या हो सकते हैं रिस्‍क

क्‍या हो सकते हैं रिस्‍क

अगर आप प्रेगनेंसी में अनार को जूस के रूप में लेती हैं तो थोड़ा सावधान रहें क्‍योंकि इसमें कैलोरी की मात्रा काफी ज्‍यादा होती है। जूस पिएं पर थोड़ा लिमिट में पिएं।

अगर आप प्रेगनेंसी के दौरान रेगुलर दवाइयां खा रही हैं जो कि आयरन या कैल्‍शियम की है तो एक बार अनार खाने के बारे में अपने डॉक्‍टर से जरुर सलाह ले लें। वो गर्भवती महिलाएं जो ब्‍लड थिनर या ब्‍लड प्रेशर की दवाइयां खाती हैं, उन्‍हें अनार खाने में थोड़ी सावधानी रखनी चाहिये।

English summary

Importance of Pomegranate During Pregnancy?

There are doubts if you can have pomegranate during pregnancy. Read to know more
Story first published: Monday, April 2, 2018, 9:10 [IST]