इन आयुर्वेदिक नुस्‍खों से घर बैठे करें माइग्रेन का इलाज

Subscribe to Boldsky

माइग्रेन यानी सिर में होने वाला असहनीय दर्द, माइग्रेन का समय रहते इलाज बहुत जरूरी है। आम बोलचाल में इसे आधे सिर का दर्द, सुदाअ निस्फी, शकीका आदि भी कहते हैं।

सुबह में सूरज उगने के साथ-साथ यह दर्द सिर में बढ़ता है। सूरज की किरणों के तेज होने के साथ माइग्रेन का दर्द भी तेज होता है। माइग्रेन की तकलीफ के समय जो दर्द होता है वह सिर के सिर्फ एक ही तरफ होता है जो कि बहुत ही धड़काने वाला होता है। माइग्रेन पीडि़त को लगता है कि जैसे कोई उनके सिर पर हथोड़ा मार रहा हैं। कभी कभी तो यह दर्द 2-3 दिन तक भी चलता है। माइग्रेन के सिरदर्द से छुटकारा पाने के लिये आजमाएं ये 20 घरेलू उपचार

कई बार दवाइयां भी इसके उपचार में कारगर साबित नहीं होती। लेकिन इसे घरेलू उपचार के जरिये इसे आसानी से ठीक किया जा सकता है। हम आपको बता रहे हैं कि कैसे इन आयुवेर्दिक उपाय जिनसे आप माइग्रेन से राहत पा सकते हैं।

Boldsky

गर्म या ठंडे पानी से मसाज

इस दर्द में कुछ लोगों को गर्म तो कुछ को ठंडे पानी से मसाज करने से आराम मिलता है। एक तौलिए को गर्म पानी में डुबोए फिर दर्द वाले हिस्से पर हल्के-हल्के टकोर दें। इसी तरह जिन लोगों को ठंडे पानी से राहत मिलती है, वह बर्फ के टुकड़ों का इस्तेमाल करें। माईग्रेन अटैक से बचना चाहते हैं तो भूल कर भी न खाएं ये फूड


बर्फ के टुकडे

बर्फ के टुकड़े को एक पैक में रखकर भी आप सिर की मालिश कर सकते हैं इसमें एंटी इमलैंफटरी गुण होते हैं जिस दर्द को कम करते हैं। साथ ही आप किसी भी ठंडी चीज का पैक भी बना सकते हैं। इसके अलावा कंधे और गर्दन के आसपास लगाएं, बहुत राहत मिलेगी।

देसी घी

देसी घी के फायदों के बारे में तो सबने सुना ही होगा। लेकिन माइग्रेन के लिए ये एक लाजवाब औषधि हैं। माइग्रेन में रोजाना गाय के देसी घी के दो बूंदे नाक में डाले या फिर इससे दर्द वाली जगह पर लगाए। इससे कुछ ही देर में आपका माइग्रेन दूर हो जाएगां।

कपूर

कपूर में एंटी बैक्‍टीरियल, एंटी फंक्‍शनल जैसे मेडिकल गुण होते है जो कि स्किन से संबंधित कई समस्‍या को दूर करता है। कपूर को घी में मिलाकर सिर पर हल्के हाथों से मालिश करने से माइग्रेन के कारण होने वाले दर्द में राहत मिलती है।

नींबू का छिलका

सेहत और सौंदर्य में नींबू को काफी कारगर माना जाता है, नींबू के छिलके को पीसकर इसका लेप तैयार कर लें। इस लेप को माथे पर लगाएं। दर्द से तुरंत राहत मिलेगी। अगर इन सब टोटको से दर्द में राहत न मिलें तो डॉक्टर से संपर्क करें।

बंद गोभी

बंद गोभी में काफी फाइबर पाया जाता हैं, ये पेट के साथ ही माइग्रेन के लिए काफी असरदायक है। बंद गोभी के पत्तियों को पीसकर गर्दन और कंधे पर लगाने से माइग्रेन से छुटकारा पा सकते हैं।

गाजर और खीरे के रस

सलाद में गाजर और खीरा तो आप खाते ही होंगे, लेकिन आप चाहे इनसे इनसे माइग्रेन की समस्‍या से निजात पा सकते हैं। गाजर और खीरे का रस निकाले। इन्‍हें कंधे और गर्दन पर लगाएं इससे आपको आराम मिलेगा।

ये कुछ देसी नुस्‍खें है जिनकी मदद से आप माइग्रेन के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    English summary

    इन आयुर्वेदिक नुस्‍खों से घर बैठे करें माइग्रेन का इलाज | Migraine: Effective Massage Remedies

    Migraine is a serious form of headache, which makes a normal and healthy life very difficult. Symptoms of this disorder are nausea, increased light sensitivity, dim spots, headache and neck pain. The pain of migraine is that it does not get relief even after consuming medicines.With the help of massage, relief from Migraine's pain can be found, especially if done with some Ayurvedic things. Watch video to know about some such domestic things,which daily massage can give relieved from migraine pain.
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Boldsky sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Boldsky website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more